Project Report

goatwala-farms-logo-1  

 

GOATWALA  FARM
www.goatwala.com
E Mail: goatwala@gmail.com
Mob No:+91-7869929786
Personal No.-+91-9425046943

प्रिय सदस्य मित्रों,

आपने अकसर सुना होगा की बैंक द्वारा बकरी परियोजना के लिए मांगे गए ऋण का आवेदन केवल इसलिए ठुकरा दिया गया क्योंकि परियोजना रिपोर्ट बैंक के मापदंड पर खरी नहीं उतरी | ऐसा तभी होता है जब हम बकरी पालन जैसी तकनीकी परियोजना हेतु बैंक से ऋण लेने के लिए रिपोर्ट चार्टर्ड अकाउंटेंट से बनवाते हैं जिन्हें इस धंधे से जुडी तकनीकी बातों का ज्ञान नहीं होता | आज कल हर बैंक तकनीकी परियोजनाओं का आकलन पदस्थ कृषि ऋण अधिकारी द्वारा करवाते हैं जो पशुपालन की शैक्षिक योग्यता वाले हों| इनअधिकारियों द्वारा पूछे गए तकनीकी सवालों के जवाब देने की क्षमता न तो प्रस्तावक के पास होती है और न ही इन चार्टर्ड एकाउंटेंट्स के पास | इस प्रकार के गैर तकनीकी विशेषज्ञों द्वारातैयार की गयी परियोजना रिपोर्ट्स की सफलता दर 5% से भी कम है | ये सबसे ज्यादा भयप्रद सत्य है की बकरी और भेड़ों से जुडी परियोजनाओं को बैंकों द्वारा उच्च जोखिम वाली परियोजनाओं की सूची में रख दिया गया है |

ताकि भविष्य में बकरी पालन तथा भेड़ पालन से जुडी योजनाएं केवल ऋण की अनुपलब्धता के कारण खटाई में न पड़ें, Goatwala Farm, द्वारा उठाया गया पहला सकारात्मक कदम  भविष्य की इन परियोजनाओं के लिए तकनीकी और वाणिज्य रूप से योग्य परियोजना रिपोर्ट का बनवायाजाना है | इस काम को कार्यकुशलता से पूरा करने के लिए Goatwala Farm परियोजना रिपोर्ट प्रदान करने की व्यवस्था की गयी है जिसके अंतर्गत परियोजना के लिए अलग से रिपोर्ट बना कर देंगे जिसमें परियोजना मानचित्र तथा अन्य तकनीकी जानकारियां होंगी जो बैंकों द्वारा मांगी जाती हैं |

100 बकरी तक की परियोजना रिपोर्टका मूल्य 5,000 रुपए तथा 100 – 500 बकरी तक की परियोजना रिपोर्टका मूल्य 10000 रुपए मात्र रखा गया है |  इन रिपोर्ट्स को इस फर्म द्वारा तथा एसोसिएशन की तकनीकी समिति द्वारा परियोजना की तकनीकी क्षमता के लिए प्रमाणित किया जायेगा तथा बैंकों द्वारा मांगी जाने वाली तकनीकी जानकारी भी प्रदानकी जायेगी | इस योजना से जुडी अधिक जानकारियों के लिए आप मुझसे  सम्पर्क कर सकते हैं |

 

Project Report on Commercial Goat farming

At many occasions we come across various examples where existing or new entrepreneurs willing to scale up / set up organized goat farming ventures are denied term loans by the Banks due to lack of a proper project report.

This is at large due to our dependence on Chartered Accountants who merely possess any grass root knowledge about the small bovine sector. The reports prepared by these agencies are purely a number game satisfying the profitability and sensitivity analysis of any particular venture. However most of the Banks currently have Credits Officers with Agriculture or Animal Husbandry backgrounds doing the techno-financial feasibility assessment of these loan applications. When these Agriculture Credit Officers raise technical queries about the project, neither the promoter nor the Chartered Accountant has a clue. The success rate of such loan applications is less than 5% at all major banks cumulatively. Agriculture sector finance quota allotted to these banks by Reserve Bank of India lapses every year amounting to lakhs of rupees every year.

Realizing the problem faced by fellow members and farm entrepreneurs, the Goatwala Farm have come up with a sustainable solution to address this problem. Goatwala Farm decided to support these farmers with provision for credit worthy tailor made Detailed Project Reports from Banks.

The charges  have been fixed at

  1. Rs. 5000/- only for 100 goats
  2. Rs. 10000/- for project up to100 — 500 goats.

Please Deposit the Amount in our Bank account in advance .

After Deposit the Amount after one week you will get project report within a week.

आभार

दीपक पाटीदार

+ 91 94250 – 46943

+91 78699 –  29786